केंसर से लड़ सकते है गेंहू के ज्वारे - The Tide of Wheat Can Fight With Cancer


वीट ग्रास यानि गेंहू के ज्वारे । यह एक जादुई भोजन है, जिसके एक नही अनेक फायदे है। इसमें मौजूद क्लोरोफिल, एमिनो एसिड, मिनरल्स, विटामिन्स और एंजाइम हमे कई बीमारियों से बचते है। यहां तक की केंसर जैसी खतरनाक बीमारी से लड़ने  के लिए भी यह बेहद कारगर है। एक रिसर्च में यह बात भी सामने आई है की ट्यूमर के इलाज में भी यह उपयोगी है ।


गेहूँ घास के सेवन से कोष्ठबद्धता, एसिडिटी , गठिया, भगंदर, मधुमेह, बवासीर, खासी, दमा, नेत्ररोग,म्यूकस, उच्चरक्तचाप, वायु विकार इत्यादि में भी अप्रत्याशित लाभ होता है।
इसके रस के सेवन से अपार शारीरिक शक्ति कि वृद्धि होती है तथा मूत्राशय कि पथरी के लिए तो यह रामबाण है।
गेहूँ के ज्वारे से रस निकालते समय यह ध्यान रहे कि पत्तियों में से जड़ वाला सफेद हिस्सा काट कर फेंक दे। केवल हरे हिस्से का ही रस सेवन कर लेना ही विशेष लाभकारी होता है। रस निकालने के पहले ज्वारे को धो भी लेना चाहिए. यह ध्यान रहे कि जिस ज्वारे से रस निकाला जाय उसकी ऊंचाई अधिकतम पांच से छः इंच ही हो। 
केंसर से लड़ सकते है गेंहू के ज्वारे - The Tide of Wheat Can Fight With Cancer केंसर से लड़ सकते है गेंहू के ज्वारे - The Tide of Wheat Can Fight With Cancer Reviewed by anil on 10:41:00 PM Rating: 5

No comments:

Note: Only a member of this blog may post a comment.

Powered by Blogger.