जाने क्या आप भी होते है अपनी ही आदतों का शिकार?


सेहत बने रहने में दिनचर्या और आदतों की बड़ी भूमिका है। नीचे दिए सवालो के जवाब देकर खुद ही परख लीजिए की आप सचमुच अपनी  आदतों का शिकार तो नहीं बन रहे? 
1. आप उन लोगो में से है जिनके लिए सेहत सम्भालने से ज्यादा चिंता का  विषय है?
          अ : सहमत      ब:  असहमत 

2. वहम-डर आप पर इस प्रकार हावी है कि आप किसी अपने को बीमार  देखकर बीमार हो जाते है?
          अ: सहमत       ब:   असहमत 

3. अपने खराब रूटीन को तोड़कर रोज कुछ नया करने की इच्छा तो है पर हमेशा आलस कर जाते है?
          अ: सहमत       ब:    असहमत 

4. अपनी सेहत के  प्रेति भरोसे में टोटके और अन्धविशवास भी है?
          अ: सहमत        ब:    असहमत 

5. कई बार लगता है कि आप अपनी सोच के कारण मन से बिमार है?
          अ: सहमत        ब:     असहमत 

6. नकारात्मक घटनाएं आपको ज्यादा प्रभावित करती है और नीद में भी डराती है?
          अ: सहमत         ब:     असहमत 

7. सेहत के साथ सुखी जीवन जीने को महज एक सपना जैसा मानते है?
          अ: सहमत          ब:     असहमत 

8. सेहत के लिए समय न देना और कंजूसी करने की आदत  कुछ नहीं करने देती?
          अ: सहमत          ब:     असहमत 

9. सेहतमंद बने रहने के लिए कुछ आदतों पर काबू करना आज से ही शुरू करेंगे?
           अ: सहमत           ब:      असहमत 

स्कोर और एनालिसिस  

आप खुद को फंसा रहे है:  6 या उससे ज्यादा विचारों से सहमत है तो स्थितियो  देखकर समझ आता है की आप अपनी ही आदतों के कारण  पीछे जा रहे है। सम्भवतः यही कारण है की आपका आत्मविश्वास भी डांवाडोल है। आपको तुरंत प्रभावी उपाय करने की जरूरत है और उसकी शुरुआत आज से ही करे तो सबसे अच्छा। अपनी खानपान,सोने-उठने और व्यवहार गत आदतों में सकारत्मक सुधार लये। 
आप मुक्त और मस्त है:   6 या उससे ज्यादा बातो से असहमत है तो यकीनन आपका विश्वास सहित पर पक्का है और कमजोरिया आपके नियंत्रण  है। सेहत में विश्वास  बनता है जब आप अनुशासन रखे और सेहत के लिए समय देते है। सेहत के लिए आप त्याग करते है और आपका प्रतिफल आपको विश्वास में बढ़ोतरी  रूप में मिलता है।

जाने क्या आप भी होते है अपनी ही आदतों का शिकार? जाने क्या आप भी होते है अपनी ही आदतों का शिकार? Reviewed by anil on 2:14:00 AM Rating: 5

No comments:

Note: Only a member of this blog may post a comment.

Powered by Blogger.